भारतीय मछुआरे की हत्या को लेकर भारत ने पाकिस्तान के समक्ष पुरजोर विरोध जताया, जांच के लिए कहा

नयी दिल्ली| भारत ने सोमवार को पाकिस्तान उच्चायोग के एक वरिष्ठ राजनयिक को तलब किया और पाकिस्तानी नौवहन सुरक्षा एजेंसी द्वारा अरब सागर में एक ‘निर्दोष’ भारतीय मछुआरे की दो दिन पहले की गयी हत्या पर कड़ा विरोध दर्ज कराया।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस निंदनीय कृत्य की भर्त्सना करते हुए भारत ने पाकिस्तान से घटना की जांच करने और अपने बलों को बिना उकसावे की गोलीबारी से बचने का निर्देश देने को कहा।

पाकिस्तानी नौवहन सुरक्षा एजेंसी ने शनिवार को अरब सागर में मछली पकड़ने वाली एक भारतीय नौका पर अकारण गोलीबारी की, जिसमें

एक भारतीय नागरिक की मौत हो गई और एक अन्य घायल हो गया। एक सूत्र ने कहा, ‘‘पाकिस्तान उच्चायोग के एक वरिष्ठ राजनयिक को आज विदेश मंत्रालय ने तलब किया और भारतीय मछुआरों पर अकारण गोलीबारी की घटना पर कड़ा विरोध दर्ज कराया।’’

माना जा रहा है कि उच्चायोग से पाकिस्तानी काउंसलर (राजनीतिक) को विदेश मंत्रालय ने तलब किया था। सूत्रों ने कहा कि भारत सरकार ने मछली पकड़ने वाली भारतीय नौका पर गोलीबारी करने को लेकर पाकिस्तानी एजेंसी की निंदा की।

उन्होंने कहा, ‘‘यह दोहराया गया कि पाकिस्तान में अधिकारी मछुआरों के मुद्दे को मानवीय और आजीविका के मामले के रूप में देखें। पाकिस्तान सरकार को भी इस घटना की जांच करने और अपने बलों को अकारण गोलीबारी के ऐसे कृत्यों से बचने के निर्देश देने के लिए कहा गया है।’’

सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तानी एजेंसी ने मछली पकड़ने वाली भारतीय नौका ‘जलपरी’पर गोलीबारी की, जिसमें भारतीय मछुआरे की मौत हो गई और एक अन्य मछुआरा गंभीर रूप से घायल हो गया। भारतीय अधिकारियों के अनुसार यह घटना शनिवार शाम करीब चार बजे अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा के पास हुई।

Post a Comment

और नया पुराने